1

Complete Vikram-Betal Stories In Hindi

vikram betal,betal pachchisi,vikram betal kahaniyan,vikram betal stories,betal pachchisi kahaniya
Vikram And Betal

बैताल पचीसी (वेताल पचीसी या बेताल पच्चीसी (संस्कृत:बेतालपञ्चविंशतिका) पच्चीस कथाओं से युक्त एक ग्रन्थ है। इसके रचयिता बेतालभट्ट बताये जाते हैं जो न्याय के लिये प्रसिद्ध राजा विक्रम के नौ रत्नों में से एक थे। ये कथायें राजा विक्रम की न्याय-शक्ति का बोध कराती हैं। बेताल प्रतिदिन एक कहानी सुनाता है और अन्त में राजा से ऐसा प्रश्न कर देता है कि राजा को उसका उत्तर देना ही पड़ता है। उसने शर्त लगा रखी है कि अगर राजा बोलेगा तो वह उससे रूठकर फिर से पेड़ पर जा लटकेगा। लेकिन यह जानते हुए भी सवाल सामने आने पर राजा से चुप नहीं रहा जाता।

हिंदी साहित्य मार्गदर्शन के माध्यम से हम बैताल पचीसी की सभी कहानियों को प्रकाशित करेंगे ताकि आप उन्हें मुफ्त पढ़ पाएँ। नई कहानी प्रकाशित करने के  साथ ही नीचे दी गयी लिंक्स को अपडेट कर दिया जायेगा ताकि आप सभी कहानियों को एक जगह से पढ़ पाएँ।   
अनुक्रमणिका
  1. बैताल पच्चीसी - प्रारम्भ की कहानी । विक्रम -बैताल की कहानियाँ
  2. पापी कौन ? - बेताल पच्चीसी - पहली कहानी |
  3. पति कौन ? बेताल पच्चीसी - दूसरी कहानी |
  4. पुण्य किसका ? - बेताल पच्चीसी - तीसरी कहानी |
  5. ज्यादा पापी कौन ? - बेताल पच्चीसी - चौथी कहानी !
  6. असली वर कौन? - बेताल पच्चीसी - पाँचवीं कहानी!!
  7. पत्नी किसकी ? - बेताल पच्चीसी - छठी कहानी|
  8. किसका पुण्य बड़ा ? - बेताल पच्चीसी - सातवीं कहानी
  9. सबसे बढ़कर कौन ? - बेताल पच्चीसी - आठवीं कहानी!!
  10. सर्वश्रेष्ठ वर कौन - बेताल पच्चीसी - नवीं कहानी |
  11. सबसे अधिक त्यागी कौन?- बेताल पच्चीसी - दसवीं कहानी|
  12. सबसे अधिक सुकुमार कौन? - बेताल पच्चीसी ग्यारहवीं कहानी!!
  13. दीवान की मृत्यु क्यूँ ? - बेताल पच्चीसी - बारहवीं कहानी|


P.S.If you liked these Vikram betal Stories In Hindi do consider sharing it with your friends and family. You can share this post on social media as well by using the social media sharing buttons below.

Post a Comment

  1. Poem Lovers Check http://swayheart.blogspot.in/

    ReplyDelete

 
Top